31 C
Kolkata
Saturday, November 27, 2021

Indian High Commission of Colombo targeted by Pakistan, here the details from ISI and photography case | ISI के इशारे पर भारतीय दूतावास की रेकी? पुलिस की जांच से बदला पाकिस्तान ने पैंतरा

Must read

नई दिल्ली: श्रीलंका (Sri Lanka) की राजधानी कोलंबो में स्थित भारतीय दूतावास (Colombo High Commission) की फोटो खींचने के मामले में गिरफ्तार हुए तीन पाकिस्तानी नागरिकों की जांच पर भारतीय एजेंसियों की पैनी नजर बनी हुई है. आपको बता दें कि इसी महीने 15 नवंबर को कोलंबो पुलिस ने इंडियन हाई कमीशन की तस्वीरें खींचते वक्त गिरफ्तार किया था.

‘पाकिस्तान की नई साजिश तो नहीं’

सूत्रों के मुताबिक इस घटनाक्रम पर भारतीय एजेंसियों के अधिकारी नजर बनाए हुए हैं. आपको बता दें कि इस मामले में गिरफ्तार सभी आरोपियों से स्थानीय थाने की पुलिस की पूछताछ के साथ श्रीलंका की CID टीम भी जांच भी जारी है. वहीं गिरफ्तारी के दौरान आरोपियों के पास से जब्त हुए मोबाइल फोन की पड़ताल में क्या निकला फिलहाल इसका खुलासा नहीं हो सकता है.

ये भी पढ़ें-  आर्कटिक सागर में लंबा ‘जाम’, 30 सेंटीमीटर मोटी बर्फ में फंसे 24 जहाज; अरबों के नुकसान की आशंका

रिक्शे से लगाया चक्कर

जानकारी के मुताबिक 3 पाकिस्तानी सऊदी अरब जाने के लिए भारतीय हाई कमीशन के पास एक होटल में रुके थे. कोरोना महामारी की बंदिशों के कारण, सीधी फ्लाइट न होने से तीनों पाकिस्तानी कोलंबो में ठहरे थे. सूत्रों के मुताबिक 15 नंवबर को तीनों पाकिस्तानियों ने रिक्शे पर बैठ कर भारतीय हाई कमीशन के कई चक्कर लगाए और इस दौरान मोबाइल से कई फोटो भी खींचें.

मामले में इस्लामाबाद की एंट्री

इस मामले में गिरफ्तार पाकिस्तानियों को बचाने के लिए श्रीलंका में स्थित पाकिस्तान हाई कमीशन सामने आया है. उसकी ओर से सभी गिरफ्तार आरोपियों को लीगल एड मुहैया कराई जा रही है. वहीं भारतीय सुरक्षा एजेंसियां कोलंबो की जांच एजेंसियों के संपर्क में है ताकि ये पता चल सके कि भारतीय हाई कमीशन के फ़ोटो खीचने के पीछे कहीं कोई बड़ी पाकिस्तानी साजिश तो नहीं थी?

ये भी पढ़ें- सिर्फ 12 घंटे की प्रधानमंत्री, अचानक दे दिया इस्तीफा; विपक्षी दलों में हलचल

भारत की चिंता की वजह

कोलंबों स्थित पाकिस्तान हाई कमीशन पर पहले भी भारत के खिलाफ साजिश रचने के आरोप लगते रहे हैं. पाकिस्तान की कुख्यात खुफिया एजेंसी ISI ड्रग्स स्मगलिंग से लेकर भारत की जासूसी के लिए श्रीलंका में मौजूद अपने इस दफ्तर को एक बेस के तौर पर इस्तेमाल करती है.

यही वजह है कि जैसे ही तीन पाकिस्तानियों का नाम भारतीय दूतावास की फोटोग्राफी के मामले से जुड़ा वैसे ही सभी भारतीय एजेंसियां हरकत में आ गई हैं. 

Source link

और लेख

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

नवीनतम लेख