31 C
Kolkata
Saturday, November 27, 2021

Garuda Purana Niti In Hindi never trust these 4 people in your life it’s dangerous for your money family and success: Garud Puran: स्त्री हो या पुरुष कभी भी न करें इन 4 लोगों पर भरोसा, साबित हो सकते ह

Must read

Image Source : INDIA TV
गरुड़ पुराण

गरुड़ पुराण को सनातन धर्म में महापुराण माना गया है। इस पुराण में भगवान विष्णु के वाहन गरुड़ और श्रीहरि की वार्तालाप के जरिए लोगों को जीवन जीने के सही तरीके, सदाचार, भक्ति, वैराग्य, यज्ञ, तप आदि के महत्व के बारे में बताया गया है। गरुड़ पुराण में जीवन-मृत्यु और मृत्यु के बाद तक की स्थितियों के बारे में बताया गया है। 

गरुड़ पुराण में ऐसे लोगों के बारे में भी बताया गया है कि किन लोगों पर भरोसा नहीं करना चाहिए। क्योंकि यह आने वाले समय पर खतरनाक साबित हो सकता है।

Garud Puran: ये 5 काम करने वाले कभी नहीं रहते हैं दुखी, हमेशा बनी रहती है सुख-समृद्धि

शासन से संबंधित व्यक्ति


गरुड़ पुराण के मुताबिक कभी भी शासन संबंधी व्यक्ति पर भरोसा नहीं करना चाहिए यानी अपने से ऊंचें पद पर बैठे लोगों पर पूरी तरह से भरोसा करने से बचना चाहिए। इन लोगों से कभी भी अपनी गुप्त बातें नहीं बताना चाहिए। क्योंकि आने वाले समय पर वह अपने हित के लिए आपकी बातों का इस्तेमाल कर सकते हैं, इसलिए डर से जीने से अच्छा है कि कोई भी बात उनको न बताएं। 

आग

आग के ऊपर कभी भी भरोसा नहीं करना चाहिए। क्योंकि किसी भी पल वह एक चिंगारी से भयानक रूप ले सकती हैं। जिससे जान और माल दोनों का नुकसान हो सकता है। इसलिए सही समय पर आग पर काबू पाना बहुत ही जरूरी है। 

Garud Puran: स्त्री हो या पुरुष कभी भी न करें ये 5 काम, वरना मां लक्ष्मी हो जाएंगी नाराज

सांप

सांप जहरीला हो या न हो लेकिन उससे हमेशा बचकर रहना चाहिए। क्योंकि वह आपकी मौंत का कारण बन सकता है। इसीलिए आपको कहीं भी सांप दिखाई दें तो उससे तुरंत सावधान हो जाना चाहिए। 

दुश्मन का नौकर 

हम कई ऐसी कहानी या किस्से सुनते आए हैं कि कैसे एक शत्रु अपने नौकर का इस्तेमाल करके किसी को भी बर्बाद कर देता है। ऐसे में अगर आप भी किसी दुश्मन के नौकर पर भरोसा कर लेंगे तो वह आपके हर राज़ को जान लेगा। जिसे वह अपने मालिक को बताकर आपका अहित कर सकता है।   

Source link

और लेख

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

नवीनतम लेख